About Us

क्या मीडिया उन मुद्दों को उठाती है जो समाज के लिए सबसे जरूरी हैं?
क्या मीडिया, किसान, मजदूर और मेहनतकश वर्ग की आवाज़ बन सकती है?
हाँ, Gaaon.com में हम ये मानते है की इस कॉर्पोरेट मीडिया का विकल्प हो सकता है I
आज दुनिया के विभिन्न हिस्सों में मीडिया केवल उस स्त्रोत की तरह हो गई है जिसका काम उपभोक्ता तक कॉर्पोरेट उद्योगों के वस्तुओं को पहुँचाना और उसका प्रचार करना रह गया हैI यहाँ तक की सार्वजनिक मीडिया भी इसी उपभोक्तावाद  और प्रचार-प्रसार की शिकार हो गई है I ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए समाचार की जगह ऊँची टीआरपी पे ध्यान दिया जा रहा है I

इसके कारण वास्तविक खबर को नुकसान उठाना पड़ रहा है I असली और समीक्षात्मक खबर दिखाने का तो जोखिम उठाना मुश्किल हो गया है I आज गरीब -मेहनतकश वर्ग की खबर हो या ज़मीन अधिग्रहण या ग्रामीण गरीबी की , इस मीडिया से तो गायब ही हो गई है I प्रचार मुनाफा कमाने का सबसे बड़ा जरिया बान गया है और शायद इसीलिए मीडिया इन मुद्दों से समझौता कर बैठी है I इसी तरह प्रचार-प्रसार की व्यवस्था ने विसुअल मीडिया को अपने घेरे में ले रखा है I इन समाचार चैंनलों की सच्चाई केवल इस बात से उजागर होती है कि एक खबर को इकठ्ठा करने का खर्चा कुल खर्चे का 5-10% प्रतिशत ही होता है I और अंतराष्ट्रीय खबरें या तो किसी विदेशी चैनल या अंतर्राष्ट्रीय मीडिया एजेंसी से ही आती है I भारतीय मीडिया इनखबरों को उसी पक्षपात के साथ दोहरा देती है चाहे फिर वो पश्चिम एशिया की खबर हो या अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद की I और अफ्रीका तथा लैटिन अमरीका के देश तो भारतीय मीडिया की खबरों से नदारद ही रहते हैं I
पर हमें इन्टरनेट का धन्यवाद देना चाहिए जिसकी वजह से आज इस विसुअल मीडिया का एक विकल्प मौजूद हो पाया है I इन्टरनेट में मौजूद साधनों जैसे यू –टयूब, गूगल विडियो और घर घर पहुँचते ब्रॉडबैड के कारण आज हम लिखित और विसुअल मीडिया में वैकल्पिक खबर मिल पा रही है I और यह सब मुख्यधारा की मीडिया द्वारा किए गए खर्चे के मुकाबले बेहद कम खर्चे में संभव हो पा रहा है I और इसने हमे नेटवर्क का भी फायदा दिखाया है अर्थात यह बताया है कि जो काम एक अकेला व्यक्ति नहीं कर सकता वो अनेक कार्यकर्ता और समूहों को इकठ्ठा कर किया जा सकता है I एक इन्टरनेट साईट वह जगह बन सकती है जहाँ हर व्यक्ति अपने विचार खुले और स्वच्छ शब्दों में व्यक्त कर सकता है I Gaaon.com इनी उदेश्यों के साथ स्थापित किया गया है I

पाठकों और शुभचिंतको के स्वैच्छिक सहयोग के साथ Gaaon.com हर उस मुद्दे को बिना पक्षपात के उठाने की कोशिश करता है जो बेहद महत्वपूर्ण हैं और जिन्हें मुख्यधारा की मीडिया नज़रंदाज़ करतो रही है I  


संपादक मंडल


गौरव यादव
पंकज प्रकाश 

Back to top button